साहित्य के रंग -  शैलजा के संग
साहित्य के रंग - शैलजा के संग

साहित्य कुञ्ज के इस अंक में

कहानियाँ

अपूर्णता

"हैलो, हाऊ आर यू।" अचानक कम्प्यूटर स्क्रीन पर ये चार शब्द उभरे, जिन्हें देख विनीता चौंक पड़ी। विनीता एक आई.ए.एस. अधिकारी थी और इस समय केन्द्र सरकार के एक सार्वजनिक उपक्रम में परियोजना निदेशक के पद पर कार्यरत थी। प्रारम्भ आगे पढ़ें


जाम

घर में पैर रखते ही पत्नी ने तपाक से पूछा, “इस बार सासू माँ ने आपको फोन करके राखी पहुँचाने को नहीं कहा?” उसने तो सामान्य ढंग से यह बात कही थी; पर न जाने क्यों मुझे उसकी बात गहरे आगे पढ़ें


नक्सली राजा का बाजा - 2

भाग - 2 अफनाहट में उन्हें यह शक भी परेशान करने लगा कि उनके आसपास आज भी जो लोग हैं वह वाक़ई उनके हैं भी या नहीं। या भोजू के जासूस बनकर उनके आगे पीछे लगे हैं। हर आदमी उनके आगे पढ़ें


उपहार

आज चेरी का जन्मदिन था। रात बारह बजे ही नीता और राजीव ने केक काटकर जन्मदिन मनाने की शुरुआत कर दी थी। चेरी लेकिन सुबह से ही कुछ अनमनी सी लग रही थी।  राजीव के ऑफ़िस जाने के बाद नीता आगे पढ़ें


विजेता

"बाबा, खेलो न!" "दोस्त, अब तुम जाओ। तुम्हारी माँ तुम्हें ढूँढ रही होगी।" "माँ को पता है, मैं तुम्हारे पास हूँ। वह बिल्कुल परेशान नहीं होगी। पकड़म-पकड़ाई ही खेल लो न!" "बेटा, तुम पड़ोस के बच्चों के साथ खेल लो। आगे पढ़ें


संवेदनाओं का गुलदस्ता

प्रेमचंद जी बड़े स्वाभिमानी स्वभाव के थे। घर में आये मेहमान का स्वागत बड़ी गर्मजोशी के साथ करते थे। अक्सर पुराने ज़माने की बातें करके संवेदनाओं से मन हल्का कर लेते थे। उन्हें आज का दौर और नई पीढ़ी में आगे पढ़ें


सज़ा तो अब शुरू हुई है.....

बच्ची के माँ-बाप न्याय के लिए गिड़गिड़ाते रह गए। लेकिन जब अपराधी की न्याय के रक्षक से गहरी दोस्ती थी तो भला मजबूर माँ-बाप न्याय तक कैसी पहुँच पाते। लिहाज़ा मासूम, अबोध बच्ची से और फिर न्याय तो था ही आगे पढ़ें


हास्य/व्यंग्य

पंडितजी का लड्डू

पंडित भोगमल तड़के उठ के नित्यकर्म से निवृत हो, गंगा स्नान कर आये और भगवान के भोग लगाने को लड्डू बनाने लगे। यह उनकी दिनचर्या थी। उसी समय उनका छोटा लड़का उठ के आँखें मींचते आया और धीरे से एक आगे पढ़ें


मातादीनजी का कन्फ़ैशन

शरीफ़ों को फ़र्स्ट डिग्री टार्चर का डर भर ही दे, उनसे ज़ोर ज़बरदस्ती न किए पाप भी तुरंत सहर्ष स्वीकार करवाने वाले कांस्टेबल ’कम’ थानेदार मातादीनजी, जब उस दिन चोरों के साथ दिन भर की थकान मिटाने को रोज़ की आगे पढ़ें


हाथियों का विरोध ज्ञापन 

जंगल के हाथी आज सुबह सुबह काफ़ी रोश में गजराजाधिराज के पास एकत्रित हो गये थे। शोर सुनकर वे अपने आशियाने से बाहर निकल आये थे।  गजराजधिराज कहते हैं क्या बात है? कुछ युवा हाथी बिफर पडे़ थे! वे बोले आगे पढ़ें


आलेख

कहानी का बीज रूप नहीं है लघुकथा

संदर्भ : कोटकपूरा लघुकथा लेखक सम्मलेन के अवसर पर पढ़ा गया आलेख लघुकथा को लेकर अक्सर कहा जाता रहा है कि लघुकथा कहानी का बीजरूप है, लघुकथा में जीवन की व्याख्या संभव नहीं है, जिन विषयों पर कहानी, उपन्यास आदि आगे पढ़ें


काव्य में सत्य, शिव और सौंदर्य

सत्य का संबंध लोकमंगल या मानवमंगल की कामनामात्र से ही नहीं, मानव मंगल के लिए काव्य में अपनाए गए उस वैचारिक एवं भावात्मक पक्ष से भी है, जिसमें आचार्य शुक्ल के अनुसार- "उत्साह, क्रोध, करुणा, भय, घृणा आदि की गतिविधि आगे पढ़ें


प्रवाद पर्व  का लोकपक्ष

प्रवादपर्व, सप्तक कवि श्रीनरेश मेहता का रामकथा पर आधारित काव्य है। 'संशय की एक रात' और 'महा प्रस्थान' की तरह इस काव्य की कथावस्तु भी अत्यन्त विरल है, लेकिन वैचारिकता और भाव प्रवणता अत्यंत सघन है। इसमें कवि ने शुद्ध आगे पढ़ें


समीक्षा

भारतीय सेना के रणबाँकुरों की प्रेरक गाथाएँ : निर्भीक योद्धाओं की कहानियाँ - छत्रपाल

भारतीय सेना के रणबाँकुरों की प्रेरक गाथाएँ : निर्भीक योद्धाओं की कहानियाँ - छत्रपाल

समीक्ष्य पुस्तक : निर्भीक योद्धाओं की कहानियाँ  लेखिका : शशि पाधा पृष्ठ : 150 मूल्य : रु. 300 प्रकाशक : प्रभात प्रकाशन, 4/19 आसफ अली रोड  नई दिल्ली -110002  प्रसिद्ध कवयित्री शशि पाधा भारतीय सेना के शौर्य और बलिदान से आगे पढ़ें


संस्कारित प्रतिष्ठा के चकनाचूर होने की कथा है ‘गंठी भंगिनिया’

संस्कारित प्रतिष्ठा के चकनाचूर होने की कथा है ‘गंठी भंगिनिया’

पुस्तक : गंठी भंगिनिया लेखक : सुनील मानव विधा : कथा-पटकथा प्रकाशक : अनुज्ञा बुक्स संस्करण : 2019 (प्रथम) मूल्य : रु. 200 (हार्ड बाउंड) प्रगतिशील लेखक, कथाकार व नाटककार श्री सुनील मानव की नई पुस्तक ‘गंठी भंगिनिया’ एक प्रभावशाली आगे पढ़ें


हरियाली और पानी

हरियाली और पानी

समीक्ष्य पुस्तक : हरियाली और पानी (बालकथा) लेखक : रामेश्वर काम्बोज ‘हिमांशु’ चित्रकार : अरूप गुप्ता पहला संस्करण : 2017 पहली आवृत्ति : 2018 पृष्ठ: 20 (आवरण सहित) मूल्य : 35 रुपये प्रकाशक : राष्ट्रीय पुस्तक न्यास, भारत,नेहरू भवन, 5 आगे पढ़ें


संस्मरण

32 - न्यूयोर्क की सैर भाग- 1

25 जुलाई 2003 न्यूयोर्क की सैर कनाडा की राजधानी ओटावा में रहते काफ़ी दिन हो गए थे, सोचा न्यूयोर्क भी घूम लिया जाय। वहाँ जाने से पहले इन्टरनेट पर वे सब स्थान देख लिए जहाँ-जहाँ बस टूर में जाने वाले आगे पढ़ें


कविताएँ

शायरी

समाचार

साहित्य जगत - कैनेडा

राम तुम्हारा वृत्त स्वयं ही काव्य है…

राम तुम्हारा वृत्त स्वयं ही काव्य है…

17 Apr, 2019

हिन्दी राइटर्स गिल्ड की अप्रैल, 2019 मासिक गोष्ठी   ’हिन्दी साहित्य में राम के विभिन्न रूप’ विषय पर इस शनिवार,…

आगे पढ़ें
’केसरिया फागुन’: हिन्दी राइटर्स गिल्ड की पुलवामा शहीदों को रचनात्मक श्रद्धांजलि

’केसरिया फागुन’: हिन्दी राइटर्स गिल्ड की पुलवामा शहीदों को रचनात्मक श्रद्धांजलि

30 Mar, 2019

हिन्दी राइटर्स गिल्ड ने ९ मार्च २०१९ को ब्रैमप्टन की स्प्रिंगडेल शाखा लाइब्रेरी में दोपहर १.३० से ४.३० बजे एक…

आगे पढ़ें
हिम की चादर पे खेले बसंत राज

हिम की चादर पे खेले बसंत राज

22 Feb, 2019

फरवरी 09, 2019 - कैनेडा की जानी-मानी और बहुआयामी संस्था हिंदी राइटर्स गिल्ड की मासिक गोष्ठी ०९ फ़रवरी २०१९ को…

आगे पढ़ें

साहित्य जगत - भारत

ओमप्रकाश क्षत्रिय शब्द-निष्ठा सम्मान हेतु चयनित

ओमप्रकाश क्षत्रिय शब्द-निष्ठा सम्मान हेतु चयनित

10 May, 2019

  रतनगढ़ - आचार्य रत्नलाल विज्ञानुग की स्मृति में शब्दनिष्ठा सम्मान देशभर की प्रसिद्ध साहित्यिक प्रतिभा और उन की कृति…

आगे पढ़ें
डॉ. गरिमा संजय दुबे के प्रथम कहानी संग्रह 'दो ध्रुवों के बीच की आस' का लोकार्पण

डॉ. गरिमा संजय दुबे के प्रथम कहानी संग्रह 'दो ध्रुवों के बीच की आस' का लोकार्पण

8 May, 2019

डॉ. गरिमा संजय दुबे के प्रथम कहानी संग्रह 'दो ध्रुवों के बीच की आस' का लोकार्पण वामा साहित्य मंच की…

आगे पढ़ें
आचार्य निरंजननाथ पुरस्कारों की घोषणा

आचार्य निरंजननाथ पुरस्कारों की घोषणा

8 May, 2019

राजसमन्द 6 मई 2019 - आचार्य निरंजननाथ स्मृति संस्थान द्वारा रविवार को इस वर्ष के पुरस्कारों की घोषणा कर दी…

आगे पढ़ें

साहित्य जगत - विदेश

ढींगरा फ़ैमिली फ़ाउण्डेशन, अमेरिका द्वारा अंतर्राष्ट्रीय कथा सम्मान तथा शिवना प्रकाशन द्वारा कथा-कविता सम्मान घोषित

ढींगरा फ़ैमिली फ़ाउण्डेशन, अमेरिका द्वारा अंतर्राष्ट्रीय कथा सम्मान तथा शिवना प्रकाशन द्वारा कथा-कविता सम्मान घोषित

26 Feb, 2019

ढींगरा फ़ैमिली फ़ाउण्डेशन अमेरिका ने अपने प्रतिष्ठित अंतर्राष्ट्रीय कथा सम्मान तथा शिवना प्रकाशन ने अपने कथा-कविता सम्मान घोषित कर दिए…

आगे पढ़ें
  • 340K

  • 234K

  • 123K

  • 12,123

A PHP Error was encountered

Severity: Core Warning

Message: PHP Startup: Unable to load dynamic library '/usr/local/php5.4/lib/php/extensions/no-debug-non-zts-20100525/php_pdo_mysql.dll' - /usr/local/php5.4/lib/php/extensions/no-debug-non-zts-20100525/php_pdo_mysql.dll: cannot open shared object file: No such file or directory

Filename: Unknown

Line Number: 0

Backtrace: