बस, अच्छा लगता है

08-01-2019

बस, अच्छा लगता है

महेश रौतेला

बस, अच्छा लगता है
तुम्हें, तुम कहना
कहना, कैसी हो,
यह जानना कि
साथ का रहस्य
खुला या नहीं,
हँसी की मुलाक़ात
हुई या नहीं,
अपनी बातों को
दोहराया या नहीं,
रिश्तों की पूछताछ
हुई या नहीं,
संस्कृति का सुर
बदला या नहीं,
बस, अच्छा लगता है
तुम्हें, तुम कहना।

0 Comments

Leave a Comment

लेखक की अन्य कृतियाँ

कहानी
कविता
विडियो
ऑडियो