सुभाष चन्द्र लखेड़ा

सुभाष चन्द्र लखेड़ा

सुभाष चन्द्र लखेड़ा

शिक्षा : एम. एससी. (रसायन विज्ञान)
संपादन : स्पंदन, प्रस्तुति एवं विज्ञान गंगा नामक पत्रिकाओं का संपादन
प्रकाशन :

  • वैज्ञानिक अनुसंधान कार्यों से जुड़े लगभग तीस से अधिक शोध पत्र एवं रिपोर्ट; प्रथम शोध पत्र वर्ष 1974 में "प्रोसीडिंग्स ऑफ़ रॉयल सोसाइटी लंदन" में प्रकाशित

  • एक हजार पाँच सौ से अधिक वैज्ञानिक लेख और विविध साहित्यिक रचनाएँ राष्ट्रीय स्तर की पत्र - पत्रिकाओं में प्रकाशित

  • पंद्रह विज्ञान कथाएँ प्रकाशित

  • खेल विज्ञान पर "खेल, खिलाड़ी और विज्ञान" पुस्तक प्रकाशित

प्रसारण : आकाशवाणी से विज्ञान विषयक 140 वार्ताएँ प्रसारित

सम्मान :

  • हिंदी विज्ञान साहित्य परिषद्, भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र द्वारा दो बार उत्कृष्ट विज्ञान लेखन हेतु पुरस्कृत; विज्ञान परिषद् प्रयाग, इलाहाबाद द्वारा "विज्ञान वाचस्पति" की मानद उपाधि एवं "व्हीटेकर पुरस्कार"

  • केंद्रीय सचिवालय हिंदी परिषद्, नई दिल्ली द्वारा हिंदी के प्रचार-प्रसार में उल्लेखनीय योगदान हेतु सम्मानित पूर्व राष्ट्रपति महामहिम ज्ञानी जैल सिंह के कर कमलों से सम्मानित

  • मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा 2009 के "आत्माराम पुरस्कार" पूर्व राष्ट्रपति महामहिम श्रीमती प्रतिभा देवी सिंह पाटिल के कर कमलों से सम्मानित

  • हिंदी माध्यम से विज्ञान लोकप्रियकरण के लिए विज्ञान परिषद् प्रयाग, इलाहाबाद द्वारा "विज्ञान परिषद् प्रयाग शताब्दी सम्मान" - 2012

  • युवा हिंदी संस्थान, अमेरिका द्वारा हिंदी में विज्ञान लेखन हेतु दिसंबर 2012 में न्यू जर्सी में सम्मानित

  • पर्वतीय लोकविकास समिति, नई दिल्ली द्वारा 19 जनवरी 2014 के दिन उत्तरायणी महोत्सव - 2014 में "पर्वत गौरव सम्मान"

संप्रति : राजभाषा के प्रचार-प्रसार और सामाजिक सरोकारों से जुड़े मामलों में निरंतर योगदान। राष्ट्रीय स्तर पर हिंदी के प्रचार-प्रसार के लिए विगत 33 वर्षों से प्रयासरत

सदस्य :

  • केंद्र सरकार के विभिन्न विभागों द्वारा आयोजित "विज्ञान पुस्तक पुरस्कार" योजनाओं की चयन समितियों में सहभागिता।

  • "विज्ञान प्रगति" पत्रिका की सलाहकार समिति का मानद सदस्य (2004 - 2006)