रास्ते 

01-07-2020

सितार के तार
जब राग अलापने में
अंगुलियों को छील दे तो
उसे उखाड़ दो
कभी विकट समय में
अमानुषों के गरदन
काटने का हथियार भी बन सकता है।


भूख हटाने के
और रास्ते है
उस भूखे को
संगीत का ज़हर
दे दो
या
किसी हिरोइन के
दो चार ठुमके दिखा दो।


राजनीति!
वह बिस्तर है
जिसमें कई तकिए लगे हैं
जो लोकतंत्र की दुहाई
देने वालों की
खाल से बने हुए हैं।

0 टिप्पणियाँ

कृपया टिप्पणी दें

लेखक की अन्य कृतियाँ

कविता
विडियो
ऑडियो

विशेषांक में