ज़िद्दी बबलू

15-10-2019

बाइक तेज़ चलाये बबलू
समझाने से ना माने।
हुआ एक दिन एक्सीडेंट तो
फिर पुलिस ले गयी थाने॥

 

थानेदार ने जुर्माना ले
जब जमकर डाँट लगाई।
उस दिन से फिर बबलू ने
न बाइक तेज़ दौड़ाई॥

0 Comments

Leave a Comment

लेखक की अन्य कृतियाँ

बाल साहित्य कविता
कविता
बाल साहित्य आलेख
किशोर साहित्य कविता
अपनी बात
कविता - हाइकु
किशोर साहित्य लघुकथा
लघुकथा
हास्य-व्यंग्य कविता
नवगीत
विडियो
ऑडियो