प्रेम है तो प्यास है 
प्रेम ही विश्वास है 
प्रेम है तो ईश्वर है 
प्रेम ही अरदास है 
 
प्रेम ही परमानंद
यह परम योग है 
प्रेम ही परमात्मा 
यह परम संयोग है 
 
प्रेम ही है अवनि 
प्रेम से आकाश है 
प्रेम ही है अग्नि 
प्रेम से प्रकाश है 
 
प्रेम ही चंद्रमा 
प्रेम ही रवि है 
प्रेम ही परमांगना 
प्रेम ही कवि है 

0 टिप्पणियाँ

कृपया टिप्पणी दें

लेखक की अन्य कृतियाँ

हास्य-व्यंग्य कविता
बाल साहित्य कविता
कविता
लघुकथा
कहानी
गीत-नवगीत
विडियो
ऑडियो

विशेषांक में