01-06-2019

बिटिया मेरी है फुलवारी

डॉ. उमेश चन्द्र सिरसवारी

बिटिया मेरी सबसे न्यारी,
मेरे आँगन की, है फुलवारी।
जब मैं घर में आता हूँ,
भर किलकारी हँसती है।
लाना मुझको छोटी गुड़िया,
झट गोदी आ जाती है।
खिल उठता है घर-आँगन,
जब उछल-उछलकर चलती है।

0 Comments

Leave a Comment