दिनेश कुमार माली

दिनेश कुमार माली

दिनेश कुमार माली

शिक्षा : 

  • बी.ई.(आनर्स) (माइनिंग) (1992); (एम.बी.एम इंजिनीयरिंग कॉलेज, जोधपुर)

  • पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन एकोलोजी एंड एनवायरनमेंट (1996);(इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ एकोलोजी एंड एनवायरनमेंट, नई दिल्ली)

  • एम.बी.ए (ऑपरेशन) (1999), (इन्दिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी, नई दिल्ली) 

  • फ़र्स्ट क्लास सर्टिफिकेट ऑफ कोम्पेटेंसी (2000), (खान सुरक्षा महानिदेशालय, धनबाद) 

  • भारतीय लोक सेवा आयोग द्वारा उप-निदेशक (खान सुरक्षा) के रूप में चयनित (2007)

  • कहानी लेखन महाविद्यालय (अम्बाला) से कहानी लेखन का डिप्लोमा

सम्प्रति : मई 2011 से महानदी कोलफील्ड्स लिमिटेड के तालचेर कोलफील्ड्स की लिंगराज खुली खदान में वरीय प्रबन्धक (खनन) के रूप में कार्यरत। इसके अतिरिक्त नामित राजभाषा अधिकारी के साथ-साथ ओपेरेटर इंडिपेंडेंट ट्रक डिस्पेच सिस्टम के प्रभारी भी है। इससे पहले 16.04.93 से 2002 तक भूमिगत खदानें जैसे हिंगीर रामपुर कोलियरी ओड़ीशा की सबसे पुरानी खदान), हीराखंड बुँदिया इंकलाइन में कार्यकारी अनुभव तथा 2002 से 2010 तक उच्च उत्पादकता वाली संबलेश्वरी खुली खदान की योजना-परियोजना से संबद्ध तथा साईडिंग के नोडल अधिकारी के रूप में प्रभार ग्रहण किया ।

प्रकाशित कृतियाँ :    

  • न हन्यते (एक श्रद्धांजलि)’ (1998)

  • पक्षीवास (ओड़िया उपन्यास का अनुवाद)’(2010) (यश पब्लिकेशन,नई दिल्ली से प्रकाशित)

  • रेप तथा अन्य कहानियाँ (ओड़िया कहानियों का अनुवाद) (2011), (राजपाल एंड संस, नई दिल्ली से प्रकाशित)

  • बंद-कमरा (ओड़िया उपन्यास का अनुवाद) (2011), (राजपाल एंड संस, नई दिल्ली द्वारा प्रकाशित )

प्रकाश्य : ओड़िया भाषा की प्रतिनिधि कहानियाँ, जगदीश मोहंती की श्रेष्ठ कहानियाँ
स्तम्भ : सुप्रसिद्ध वेब-पत्रिका srijangatha में ओड़िया कहानियों का दो साल से स्तम्भ ‘ओड़िया माटी’ का लेखन। इसके अतिरिक्त, वेब-पत्रिका नव्या और परिकल्पना में ओड़िया कविताओं एवं ओड़िया दलित कहानियों का लेखन।
सम्मान : 

  • कॉल इंडिया तथा महानदी कोलफील्ड्स द्वारा समय समय पर राजभाषा सम्मान

  • भारतीय राजभाषा विकास संस्थान, देहरादून द्वारा आयोजित अखिल भारतीय राजभाषा संगोष्ठी-2011

  • मदुरै में ‘राजभाषा विशिष्टता सम्मान’ तथा ‘विशेष राजभाषा विशिष्टता सम्मान’ द्वारा सम्मानित

  • चतुर्थ अंतर-राष्ट्रीय हिन्दी सम्मेलन-2011

  • थाईलेंड में सृजन-सम्मान संस्थान, रायपुर द्वारा "सृजन-श्री" से सम्मानित

ब्लॉग्स :