डॉ. रेखा सेठी

डॉ.  रेखा सेठी

डॉ. रेखा सेठी

शिक्षा : 

  • दिल्ली विश्वविद्यालय से एम. ए. , एम. फिल., पी.एचडी; 
  • एम. फिल शोध विषय : मुक्तिबोध की लम्बी कवितायें : संवेदना और शिल्प 
  • पी.एचडी. शोध विषय : स्वातंत्रयोत्तर हिन्दी कहानी में व्यक्ति और व्यवस्था का सम्बन्ध 

सम्प्रति : दिल्ली विश्वविद्यालय के इन्द्रप्रस्थ कॉलेज के हिन्दी विभाग में एसोसिएट प्रोफेसर के पद पर नियुक्त।

प्रकाशित कार्य :
पुस्तकें  : 

  • ‘विज्ञापन डॉट कॉम’,
  • ‘व्यक्ति और व्यवस्थाः स्वांतत्र्योत्तर हिन्दी कहानी का संदर्भ’,
  • ‘निबन्धों की दुनियाः हरिशंकर परसाई’ (सम्पादित),
  • ‘निबन्धों की दुनियाः बालमुकुन्द गुप्त’ (सम्पादित),
  • ‘निबन्धों की दुनियाः प्रेमचंद’ (सम्पादित),
  • ‘हवा की मोहताज क्यों रहूँ’ (इन्दु जैन की कविताएँ, सह सम्पादित),
  • ‘कालजयी हिन्दी कहानियाँ’ (सह सम्पादित), ‘समय के संग साहित्य’ (सह सम्पादित)।

पुस्तक समीक्षाएँ :

  • उदय प्रकाश ; मंगोसिल ; पेंगुइन इंडिया यात्रा बुक्स नई दिल्ली जनसत्ता सितम्बर 2007 
  • योगेन्द्र आहूजा ; अंधेरे में हंसी ; भारतीय ज्ञानपीठ , नई दिल्ली, हंस, मई 2007 
  • क्षमा शर्मा ; नेम प्लेट ; वाणी प्रकाशन नई दिल्ली जनसत्ता जनवरी 2007
  • स्वयंप्रकाश ; संधान ; वाणी प्रकाशन नई दिल्ली जनसत्ता नवम्बर 2006 
  • इंदु जैन ; कुछ न कुछ टकराएगा ज़रूर ; भारतीय ज्ञानपीठ नई दिल्ली जनसत्ता सितम्बर 2006
  • उदय प्रकाश ; मोहनदास ; वाणी प्रकाशन नई दिल्ली जनसत्ता दिसम्बर 2005

लेख :

  • इंदु जैन: मेधा और सृजन का योग, साहित्यकुंज 2008
  • (स्त्री) सशक्तिकरण के मायने, जनसत्ता , अगस्त 2007
  • सविता सिंह को पढ़ते हुए, नया ज्ञानोदय फरवरी 2007
  • स्वाधीनता के धुंधलके में, जनसत्ता सितम्बर 2005 
  • बाज़ार में हिन्दी, दैनिक हिंदुस्तान जून 2005
  • साहित्य, भाषा और बाज़ार, जनसत्ता जून 2000

संस्मरण :  इंदु जैन: जैसा मैंने उन्हें जाना, संचेतना नई दिल्ली, 2007