मेरे लिए कठिन होता है 

01-04-2021

मेरे लिए कठिन होता है 

गौरव कुमार महतो

मेरे लिये कठिन होता है 
अपनी इच्छाओं को मारना 
अपनी जीवित इच्छाओं को मृत्यु शैया पर लिटाकर
उसे दो गज की ज़मीन में गारना।
 
मेरे लिये कठिन होता है 
दूसरो के हाँ में हाँ मिलना
अपनी जली हुई इच्छाओ की अस्थियों को 
उफनती गंगा में बहाना।
 
मेरे लिये कठिन होता है 
जानकर भी यह अन्याय है 
फिर भी उसे सह जाना 
अपनी ज़ुबान होने के बावजूद भी 
गूँगेपन के साथ अपना परिचय करवाना।

0 टिप्पणियाँ

कृपया टिप्पणी दें