लाचार भगवान

16-08-2008

लाचार भगवान

ई. भारत रत्न गौड़

गांधी ने इस देश को आज़ाद कराया
सत्य और अहिंसा का पाठ पढ़ाया
गांधी टोपी ने नसीहत को यादगार बनाया
मुन्ना भाई ने भी गांधीगिरी का पाठ दोहराया
गांधी को अपनी पीढ़ी का आभास नहीं था
सत्य, अहिंसा को पाठ्यक्रम से हटा दिया
अहिंसा का ’अ‘ हटा सत्य पे लगा दिया
देश को असत्य, हिंसा की राह पे चला दिया
नसीहत की गांधी टोपी को भी उतार दिया
अब तक था इंसान भगवान भरोसे
अच्छा हो जाए तो भगवान का दिया
बुरा हो जाए तो भगवान की रज़ा
अब इस देश में भगवान भी लाचार नज़र आया
छा रहा उसके दर पे आतंक और मौत का साया
उसके भी मुकुट, छत्र और वस्त्र चोरी हो रहे
न्यायालय के हाकिम भी अब तो यह कह रहे
भगवान भी अब तो देश की मदद कर नहीं सकता
उसके भरोसे न रहे इस देश की जनता

0 Comments

Leave a Comment