बिंब बंब कविता

13-02-2012

बिंब बंब कविता

ओंकारप्रीत

कवि सो गया
एक अछूता बिंब
कविता ना हो सका
बिंब ने निराशा में
उतार फेंकी अपनी
छोटी "इ" की मात्रा
और बंब हो गया॥

0 Comments

Leave a Comment