तितली, क्यों शरमाती?

01-10-2019

तितली, क्यों शरमाती?

डॉ. प्रमोद सोनवानी 'पुष्प'

इस डाली से उस डाली पर,
नाच रही है तितली रानी।

 

रंग - बिरंगी पंखों  वाली,
मन बहलाती तितली रानी॥

 

फुर-फुर कर बगिया में आती,
हँसती, इतराती - मुस्काती।

 

देख हमें  झट से उड़ जाती,
जाने  हमसे क्यों शरमाती॥

0 Comments

Leave a Comment