मैं 
दूर खड़ा 
इतिहास के आईने से
शब्दों का 
चमत्कार देख रहा हूँ,
कि 
शब्द कोरे,
काले धब्बे
नहीं होते।
शब्दों की ताक़त 
शायद 
दुनिया की सबसे बड़ी ताक़त है
शब्दों से ही 
इतिहास 
बनते और बिगड़ते हैं 
शब्द 
मनुष्य का सबसे बड़ा आविष्कार है,
यह 
एक ऐसा जादू है 
जिसे 
आता है 
वह दुनिया पर 
अपनी अमिट छाप छोड़ता है।
और युगों- युगों तक
अमर हो जाता है।

0 Comments

Leave a Comment