जब कोई किसी को याद करता है

15-03-2015

जब कोई किसी को याद करता है

डॉ. मनीष कुमार मिश्रा

मैंने सुना है क़ि-
जब कोई किसी को याद करता है
तो आसमान से एक तारा टूट जाता है
लेकिन अब मुझे इस बात पर
यक़ीन बिलकुल भी नहीं है
क्योंकि -

 

अगर सच में ऐसा होता तो
अब तक सारे तारे टूटकर
जमीन पर आ गए होते
आखिर इतना तो याद
मैंने तुम्हें किया ही है।

0 टिप्पणियाँ

कृपया टिप्पणी दें

लेखक की अन्य कृतियाँ

शोध निबन्ध
साहित्यिक आलेख
सामाजिक आलेख
कविता
कविता - क्षणिका
कहानी
विडियो
ऑडियो