हम औरतें

15-11-2020

हम औरतें
हृदय में
लज्जा और अपमान का
दर्द और बोझ लेकर
यहाँ से वहाँ
क्यों दौड़ते रहेंगे
 
किसी के बलात्कार के बाद
हत्या होने पर
या किसी को
ज़िन्दा जलाने पर
घर से निकलकर
मृत आत्मा की शान्ति
के लिए
सड़क पर मोमबत्ती
क्यों जलायेगें
 
हम भी तो
बन्द मुट्ठी को आसमान की ओर
दिखाकर
लज्जा और अपमान के
ख़िलाफ़ बोल सकेंगे
पत्थरों से आग
जला सकेंगे
और उस आग से
बुरे लोगों की
बुरी मनसिकता को
जला सकेंगे

0 टिप्पणियाँ

कृपया टिप्पणी दें