गणतंत्र

01-02-2021

गणतंत्र

आलोक कौशिक

दुनिया करती है  
उस राष्ट्र का सम्मान 
जिसके पास होता है 
अपना संविधान 
 
जनता में समाहित 
होती है जब सत्ता 
तब किसी देश का 
गणतंत्र है बनता 
 
भारत भी हुआ था 
तब पूर्ण स्वतंत्र 
मनाया था इसने 
जब दिवस गणतंत्र 
 
स्वतंत्रता से भी अधिक 
करनी पड़ी थी प्रतीक्षा 
भेदभाव भुलाकर करें 
इस गणतंत्र की सुरक्षा 

0 टिप्पणियाँ

कृपया टिप्पणी दें

लेखक की अन्य कृतियाँ

हास्य-व्यंग्य कविता
बाल साहित्य कविता
कविता
लघुकथा
कहानी
गीत-नवगीत
विडियो
ऑडियो

विशेषांक में