अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली मुख्य पृष्ठ
05.31.2008
 

गाय करती है घमौनी 
[
'अरधान' से] 
त्रिलोचन शास्त्री
चयन : डॉ. शैलजा सक्सेना


आँख मूँदे, पेट पर सिर टेक

गाय करती है घमौनी बँधी जड़ से

पेड़ की छाया खड़ी दीवार पर है 


अपनी प्रतिक्रिया लेखक को भेजें