अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली
ISSN 2292-9754

मुख पृष्ठ
10.13.2017


डॉ. ऋषभदेव शर्मा अंतरराष्ट्रीय हिंदी मित्र सम्मान से अलंकृत
डॉ. गुर्रमकोंडा नीरजा

मुंबई में विले पार्ले स्थित साठ्ये महाविद्यालय में संपन्न "रामकथा और आदिवासी साहित्य" विषयक "द्विदिवसीय अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी" के अवसर पर हैदराबाद के हिंदी आचार्य एवं साहित्यकार प्रो. ऋषभदेव शर्मा को मॉस्को की संस्था रूसी-भारतीय मैत्री संघ 'दिशा' एवं मुंबई की संस्था साहित्यिक सांस्कृतिक शोध संस्थान की ओर से "अंतरराष्ट्रीय हिंदी मित्र सम्मान" से अलंकृत किया गया। यह सम्मान प्रो. ऋषभ को उनकी हिंदी भाषा, शिक्षा, साहित्य और सामाजिक कार्यों के प्रति अनवरत सेवाओं के लिए प्रदान किया गया है। साथ ही, पूर्वोत्तर भारत के सम्मान चिह्नों द्वारा भी उनका अभिनंदन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता साठ्ये कॉलेज की प्राचार्य डॉ. कविता रेगे ने की। इस अवसर पर अयोध्या शोध संस्थान के निदेशक डॉ. योगेंद्र प्रताप सिंह, इंदिरा गांधी राष्ट्रीय जनजातीय विश्वविद्यालय के आचार्य डॉ. दिलीप सिंह, महात्मा गांधी संस्थान-मॉरीशस की निदेशक डॉ. विद्योत्तमा कुंजल, हिंदी प्रचारिणी सभा-मॉरीशस के प्रधान डॉ. यंतु देव बुधु, श्रीलंका की हिंदी लेखिका डॉ. वजीरा गुणसेना, सिने अभिनेत्री पुष्पा वर्मा, हिंदी संगम फाउंडेशन-अमेरिका के निदेशक डॉ. अशोक ओझा, वैश्विक राम साहित्य के विशेषज्ञ डॉ. प्रदीप कुमार सिंह, स्पाइल दर्पण-नार्वे के संपादक डॉ. सुरेश शुक्ल, संवाद पत्रिका के संपादक डॉ. अमित कुमार पांडेय, कुतुबनुमा की संपादक डॉ. राजम नटराजन पिल्लै सहित देश-विदेश के अनेक हिंदीसेवी एवं साहित्यकार उपस्थित थे। संचालन डॉ. अनिल सिंह ने किया।


अपनी प्रतिक्रिया लेखक को भेजें