अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली मुख्य पृष्ठ
05.03.2012
 
 

सोने की चमक
Sone kee Chamak
विजय विक्रान्त

Vijaya Vikraant

विजय विक्रान्त

झगड़ू, बिगड़ू, मटरू और कटरू चार पक्के दोस्त भी थे और चोर
Jhagarhoo, bigarhoo, Mataroo aur kataroo char pakke dost bhee the aur chor
भी थे।
वो बस छोटी मोटी चोरी करके या फिर किसी की जेब काट के
bhee the. Vo bus chhotee motee choree karke yaa phir kisee ki jeb kaat ke
अपना
गुज़ारा करते थे। जिस मुहल्ले में वो रहते थे, वहाँ पर कोई भी
apana guzaara kar te the. Jis muhalle mein vo rahate the, vahaan par koee bhee
ग़लत
काम नहीं करते थे। आसपास के सब लोग इनको बहुत सज्जन
galat kaam naheen karate the. Aas-paas ke sab log inko bahut sajjan
कहते
थे।
kahate the.

एक दिन चोरी करने की नियत से ये चारों निकल पड़े। एकाएक
           Ek din choree karane ki niyat se ye charon nikal parhe. Eka ek
उन्होंने
देखा कि एक साधू डर के मारे भागा जा रहा है। चोरों के पूछने
unhone dekhaa ki ek sadhoo Dar ke maare bhaga ja raha hai. choron ke poochhane
पर
उस साधू ने उँगली के इशारे से बताया कि उसने वहाँ पर मौत को
  par us saadhoo ne ungalee ke ishaare se bataayaa ki usane vahaan par maut ko
देखा
है। इतना कहकर साधू वहाँ से भाग गया। अब चोरों ने सोचा कि
dekhaa hai. itanaa kahkar saadhoo vahaan se bhaag gaya. ab choron ne socaa ki
चल
कर देखें तो सही कि मौत कहाँ पर है और कैसी लगती है। जब
chal kar dekhen to sahee ki maut kahaan par hai aur kaisee lagatee hai Jab
चारों
थोड़ी दूर पहुँचे तो देखा कि वहाँ पर एक बहुत बड़ा सोने का 
chaaron thorhee door pahunche to dekhaa ki vahaan par ek bahut barhaa sone kaa
ढेर लगा
हुआ था।
 
Dher lagaa huaa thaa.

सोने को देख कर चारों ने सोचा कि ज़रूर साधू का दिमाग ख़राब
      sone ko dekh kar chaaron ne socaa ki zaroor saadhoo kaa dimaaga kharaab
हो
गया है जो सोने को मृत्यु कहता है।सामने पड़े सोने को आपस में
ho gayaa hai jo sone ko mritu kahataa hai. Samane parhe sone ko aapas mein
बाँटने
से पहले चारों ने आपस में यह फ़ैसला किया कि पहले भोजन
baanTane se pahale chaaron ne aapas mein yah faisala kiyaa ki pahale bhojan
कर
लें फिर उसके बाद माल का चार हिस्सों में बटवारा कर लेंगे।
kar len phir usake baad maal kaa chaar hisson mein baTvara kar lenge.
झगड़ू
और बिगड़ू को कहा गया कि तुम शहर जाकर खाना ले आओ।
  Jhagarhoo aur Bigarhoo ko kahaa gayaa ki tum shahar jaakar khana le aao.
उनके
पीछे मटरू और कटरू सोने की रखवाली करेंगे। दोनों के चले
unake peechhe MaTaroo aur KaTaroo sone kee rakhavalee karenge. donon ke chale
जाने
के बाद मटरू और कटरू की नियत खराब हो गई और उन्होंने
jaane ke baad MaTaroo aur KaTaroo kee niyat kharaab ho gaee aur unhonne
झगड़ू और
बिगड़ू को जान से मारने की योजना बनाई ताकि सारा
Jhagarhoo ur Bigarhoo ko jaan se maarane kee yojanaa banaaee taki sara
सोना इन
दोनों के हाथ आजाए।
a sonaa in donon ke hath aajaae.

उधर झगड़ू और बिगड़ू का भी यही हाल था। उन्होंने भी सोचा कि
Udhar Jhagarhoo aur Bigarhoo kaa bhee yahee haal thaa. unhonne bhee sochaa ki
क्यों
हम खाने में ज़हर मिला दें ताकि वो दोनों मर जाएँ और सारा
 kyon na ham khaane mein zahar milaa de taaki vo donon mar jaaen aur sara
सोना हमारे
दोनों के हिस्से में जाए। झगड़ू, बिगड़ू, मटरू और
 sona hamaare donon ke hisse mein aa jaae. Jhagarhoo, Bigarhoo, MaTaroo aur
कटरू अपनी अपनी योजनाओं के अनुसार तैयार हो गए।

 KaTaroo apani apanee yojanaaon ke anusaar taiyaar ho gaye.

जैसे ही खाना लेकर झगड़ू और बिगड़ू पहुँचें, मटू और कटरू ने
Jaise hee khana lekar Jhagarhoo aur Bigarhoo pahunche, MaTaroo aur KaTaroo ne
उन
दोनों को जान से मार दिया। सोना बाँटने से पहले खाना खालें, यह
 un dono ko jaan se maar diyaa. Sona baanTne se pahle khana khaalen, yah
 सोच कर मटरू और कटरू खाने पर टूट पड़े और थोड़ी ही देर में दोनों
socha kar MaTaroo aur KaTaroo khane par toot parhe aur thorhi he der mein donon
ने
भी दम तोड़ दिया और सोने का पहाड़ वैसे का तैसा अपने स्थान पर
 ne dam torh diyaa aur sone kaa pahaarh vaise kaa taisaa apane sthaan par
पड़ा
रहा।
parhaa rahaa.

साधू महाराज का कहना ठीक निकला। सोने की चमक को देख
              Sadhoo maharaj kaa kahanaa Theek nikala. sone kee chamak ko dekh
कर
चारों दोस्तों के दिल में लालच गया और सब ने अपनी अपनी
 kar chaaron doston ke dil mein laalach aagaya aur sabane apanee apanee
जान
गँवा दी।
 jaan ganvaa dee.

साधू महाराज ने ठीक कहा था कि वहाँ पर साक्षात मौत खड़ी है!
    saadhoo mahaaraaj ne Theek kahaa thaa ki vahaan saakshaat maut kharhee hai

 

Difficult
Words
Meaning Difficult
Words
Meaning Difficult
Words
Meaning
Bantwaara sharing Bhojan  food Chaar four
Chamak  Brightness  Choti-moti small Dam tod diya died
Dimaag brain Dost  friends Dher pile
Guzaara living Hissa share Jeb kaat kar pick pocket
 Khadi   stand up   Kharab  gone bad/
wrong
Lalach greed
Log people Maal  loot (things) Mohalle neighbourhood
Nikal parhe went out Niyat intention Toot parhe attacked
Saakshat In real form Sadhoo saige Sone/ Sona Gold

 


अपनी प्रतिक्रिया लेखक को भेजें