अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली
ISSN 2292-9754

मुख पृष्ठ
04.20.2018

 
परिचय  
 
  सुचेतना मुखोपाध्याय कोलकाता में जन्मी और रहती हैं। सरकारी स्कूल में इतिहास विषय की शिक्षिका सुचेतना को मातृभाषा बंगला के साथ हिंदी भाषा व साहित्य में भी रुचि बचपन से रही है। जीवन की अनिवार्य भागदौड़ के बीच इन दोनों भाषाओं में वो कविताएँ, कहानियाँ लिखती आयीं हैं बहुत सालों से। रोज़मर्रा के अनगिनत पर तथाकथित तुच्छ लमहों में बसी बहुमात्रिकता से इन्हें लिखने की प्रेरणा मिलती है।
सम्पर्क : 2suchetana@gmail.com