अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली
ISSN 2292-9754

मुख पृष्ठ
11.30.2018


लाईटर

जेब टटोली तो
सिगरेट का पैकेट और लाईटर
दोनों मिल गए
लेकिन पैकेट में सिगरेट नहीं थे
रात के दो बजे
कहीं मिल भी नहीं सकते थे
सिगरेट का पैकेट फेंक दिया
और लाईटर
इस उम्मीद में जला लिया कि
शायद कहीं कोई सिगरेट
यहाँ-वहाँ रख भूल गया हूँ
ऐश ट्रे के पास
जली सिगरेटों की
नाउम्मीदी के सिवा कुछ न था
लाईटर वापस जेब में रखकर
मैं और लाईटर
एक नई उम्मीद के साथ
सो गए / बुझ गए।


अपनी प्रतिक्रिया लेखक को भेजें