अन्तरजाल पर आपकी मासिक पत्रिका

अन्तरजाल पर साहित्य-प्रेमियों की विश्राम-स्थली
वर्ष: 10, अंक 94,  नवम्बर द्वि्तीय अंक, 2014
ISSN 2292-9754

लेखक या सम्पादक की लिखित अनुमति के बिना पूर्ण या आंशिक रचनाओं का पुर्नप्रकाशन वर्जित है। लेखक के विचारों के साथ सम्पादक का सहमत या असहमत होना आवश्यक नहीं।  सर्वाधिकार सुरक्षित। साहित्य कुंज में प्रकाशित रचनाओं में विचार लेखक के अपने हैं और साहित्य कुंज टीम का उनसे सहमत होना अनिवार्य नहीं है।
सम्पादक:- सुमन कुमार घई; साहित्यिक परामर्श:- डॉ. शैलजा सक्सेना; सहायता - विजय विक्रान्त; संरक्षक - महाकवि प्रो. हरिशंकर आदेश

कविता   कहानी   लघु-कथा   लोक-कथा   आपबीती   आलेख    हास्य-व्यंग्य    हास्य-व्यंग्य कविताएँ    महाकाव्य   अनूदित-साहित्य   लेखक   संकलन    ई-पुस्तकालय   साहित्यिक-चर्चा   शोध निबन्ध    साहित्यिक-समाचार    शायरी   शायर   बाल साहित्य   हिन्दी ब्लॉग
पुस्तक समीक्षा / पुस्तक चर्चा    साक्षात्कार
इस अंक में     पुराने अंक

सर्वेक्षण : आधुनिक युग में पुस्तक प्रकाशन के विविध विकल्प उपलब्ध हैं। इन विकल्पों में सबसे अधिक लोकप्रिय और सहज ई-बुक्स है। यह पुस्तकें आप ई-रीडर, स्मार्ट फोन, टैब्लेट्स, पीसी और लैपटॉप पर पढ़ सकते हैं। यह पुस्तकें आपके व्यक्तिगत पुस्तकालय का भाग बन जाती हैं। ई-बुक्स की कीमत आम पुस्तकों से बहुत कम होती है और और प्रकाशन भी बहुत सस्ता होता है। यह आपकी शेल्फ़ पर जगह भी नहीं घेरतीं। इस विकल्प के बारे में साहित्य कुंज ने एक सर्वेक्षण करने का प्रयास शुरू किया है। आप सुधी पाठकों से निवेदन है कि इसमें अवश्य हिस्सा लें। इंटरनेट पर साहित्य के नए विकल्प के लिये यह महत्वपूर्ण है।
                                                   - सुमन कुमार घई
                                                     सर्वेक्षण आरम्भ करें :

इस अंक में —

कहानियाँ
कविताएँ
शायरी
हास्य-व्यंग्य
ललित निबन्ध
बाल साहित्य

लघु कथा
निबन्ध/ आलेख
पुस्तक चर्चा / साहित्य चर्चा/
पुस्तक समीक्षा

ई-पुस्तकालय
यात्रा संस्मरण

संकलन
सूचना
अनूदित साहित्य
साहित्यिक समाचार
महाकाव्य
साहित्य संगम

इस अंक में कहानियाँ -
रास्ता किधर है
विक्रम सिंह
उसका आसमान
डॉ. सारिका कालरा
अमृत वृद्धाश्रम
विजय कुमार सप्पत्ति
हास्य - व्यंग्य - बाल साहित्य - लघु कथा -
एक शर्त भी जीत न पाया -हरि जोशी
गड़े मुर्दों की तलाश.... - सुशील यादव
ज़हर किसे चढ़े? - अशोक परुथी "मतवाला"
फेयरवेल - उषा बंसल
अम्मू भाई का छक्का (कहानी) - प्रभुदयाल श्रीवास्तव
दाल बाटियों के दिन, आधी रात बीत गई - प्रभुदयाल श्रीवास्तव
प्यारा भारत, पुस्तक - रमेश ‘आचार्य’
पुत्र धर्म, अपना-पराया, ग़रम मसाला, सीख - अमित राज ‘अमित’
औकात - विश्वम्भर पाण्डेय 'व्यग्र'
आलेख -  शोध निबन्ध -  शोध निबन्ध -  
भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन और ग़दर पार्टी
शैलेन्द्र चौहान
ऑस्कर वाइल्ड
(30 नवंबर-पुण्यतिथि)
शैलेन्द्र चौहान
वैदिक साहित्य में तीर्थ भावना का उद्भव एवं विकास
रामकेश्वर तिवारी
डॉ. रामविलास शर्मा की दृष्टि में निराला के साहित्य में जातीय चेतना
बिजय कुमार रबिदास
अज्ञेय की कहानियों का पारिस्थितिकी पाठ
मनमीत कौर
शंकर शेष की रंगभाषा
विकास वर्मा
नारी की पीड़ा से अभिभूत प्रेमचंद का साहित्य
कीर्ति भारद्वाज
साहित्यिक निबन्ध - ललित निबन्ध - अनूदित साहित्य
विज्ञापन की भाषा बनाम साहित्यिक भाषा
डॉ. रेखा सेठी
भारत में भारतीय भाषाओं का सम्मान और विकास
प्रो. महावीर सरन जैन

घर की चिड़ियाँ और हम
भुवनेश्वरी पाण्डे
मेंढक का मुँह
"टोड्स माउथ" – इज़ाबेल अलेंदे
अनुवाद : सुशांत सुप्रिय
कविताएँ -  
रस्ता वही दिखाओ, उड़ान - वीणा पांडे
मानवता खतरे में पाकर... - सतीश सक्सेना
भूख, इन्द्रधनुषी रंग, वसंत मेरे भीतर उतर आया है, बाबरे मन - सीमा ‘असीम’ सक्सेना
मैं तो मैं हूँ - रवि कांत
छह हाइकु - विभा रानी श्रीवास्तव
पानी की बूँदें कहें - मनोज कुमार शुक्ल ‘मनोज’
माँ, चाहत, सफ़र, आदमी, डर - सुधीर सिंह "सुधाकर"
सुरिंदर मास्टर साहब और पापड़-वड़ियों की दुकान, नरोदा पाटिया : गुजरात, 2002, धन्यवाद-ज्ञापन - सुशांत सुप्रिय
मैं गुनहगार हूँ!!, नदी जब चीरकर छाती पहाड़ों की निकलती है - अवधेश कुमार मिश्र "रजत"
तेरी यादों का कोहरा, तुम्हारी तुलना - महेश रौतेला
सुन्दरता, राणा तुमको शत-शत प्रणाम.. -विश्वम्भर पाण्डेय 'व्यग्र'
चलो कुछ लिखा जाये - शक्ति बारेठ
5 क्षणिकायें - डॉ. रमा द्विवेदी
बेटी, तिजारती - रजनीकान्त राकेश
लेकर क्या करोगे, हम दोनों का एक समर्पण, ….तो कैसे विश्वास करोगे - राघवेन्द्र पाण्डेय ‘राघव’
हम भी कैसे.., भवसागर से अच्छा होगा, ऑल इज़ वैल - लक्ष्मीनारायण गुप्ता

शायरी -
मेरी लाडली - डॉ. अनिल चड्डा
पुस्तक समीक्षा -  पुस्तक समीक्षा -  पुस्तक चर्चा

ताज़ी बयार चली तो है….
संतोष श्रीवास्तव

भारत में विकेंद्रीयकरण के मायने
प्रदीप श्रीवास्तव

आरंम्भिक भारत का संक्षिप्त इतिहास
नानकचन्द
यात्रा संस्मरण - संस्मरण-  संकलन -
Kailash
कैलाश-मानसरोवर यात्रा - प्रेमलता पांडे
बीसवा  दिन - 23/6/2010
इक्कीसवां दिन - 24/6/2010
कन्या-भ्रूण हत्या से संबंधित संस्मरण शृंखला 

कृतज्ञता
सविता अग्रवाल ’सवि’
इस अंक में
महादेवी वर्मा
डॉ. हरिवंश राय बच्चन
आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी
त्रिलोचन शास्त्री
नागार्जुन
ई - पुस्तकालय - (इस स्तम्भ के अन्तर्गत पुस्तकों का प्रकाशन धारावाहिक रूप में होगा)

अंतपुर की व्यथा कथा
अनिल कुमार पुरोहित
युद्ध के पश्चात
02 दृश्य


अगले अंक से आरम्भ होगा नया उपन्यास

भीगे पंख

लेखक : महेश द्विवेदी

शकुन्तला
इस अंक में चतुर्थ सर्ग - प्रमोद ६ महाकवि प्रो. हरिशंकर आदेश
(अगले अंक से)
साहित्यिक समाचार -

हिन्दी राइटर्स गिल्ड का छ्ठा वार्षिकोत्सव
सुमन कुमार घई

अणुव्रत लेखक पुरस्कार से डॉ. बजरंगलाल गुप्ता सम्मानित
ललित गर्ग

साहित्य मंथन सृजन पुरस्कार समारोह 15 नवंबर को
डॉ. गुर्रमकोंडा नीरजा
सूचना - साहित्य संगम -
साहित्य कुंज के नए अंकों की सूचना पाने के लिए अपना ई-मेल पता भेजें

Powered by us.groups.yahoo.com

हिन्दी राइटर्स गिल्ड
 अनुभूति-अभिव्यक्ति  
 काव्यालय
 वागर्थ (भारतीय भाषा परिषद.Com)
 हंस
 साहित्य सरिता
हिन्दी नेस्ट
सृजनगाथा
कृत्या
लघुकथा
साहित्य सेतु
हिन्दी ब्लॉग
अपनी रचनाएँ भेजें:-
कृपया अपनी रचनाएँ निम्नलिखित ई-मेल पर भेजें
sahityakunj@gmail.com
अथवा डाक द्वारा भेजें:-
Sahitya Kunj,
87, Scarboro Ave.
Scarborough, Ont M1C 1M5
Canada